स्नेह और आशीर्वाद के साथ

26 जुलाई 2011

हमने बना लिया अपना सुन्दर सा घर

हमें अपने पिछले जन्मदिन पर ब्लोक गेम्स मिले थे। कुछ तो सरल थे और कुछ कठिन। अब हम बड़े हो गये हैं और कुछ ब्लोक गेम्स बनाने भी लगे हैं।



इन्हीं में से एक से घर बनाया जाता है। घर बनाना बहुत कठिन है पर इस बार हमने अपनी मम्मा की मदद से अपने ब्लोक घर को बना लिया। घर बनाकर उसके आगे एक छोटा सा गुड्डा भी खड़ा कर दिया है।



आपको बता दें कि हमने अपने घर को बनाकर अपने खिलौनों की अलमारी में सजा दिया है। अभी कुछ दिन तो सजा कर रखेंगे फिर उससे कोई दूसरी चीज बनायेंगे। इससे बहुत सी चीजें बन जाती हैं।




==============================

सारे चित्र हमारी मम्मा ने कैमरे से खींचे हैं

2 टिप्‍पणियां:

शालिनी कौशिक ने कहा…

अक्षयंशी घर भी बहुत सुन्दर है और फोटो भी बधाई.

"रुनझुन" ने कहा…

वेरी गुड अक्षयांशी! तुमने बहुत सुन्दर घर बनाया है...बधाई हो!... और भी सुन्दर-सुन्दर चीज़े बना कर हमें दिखाना...टा-टा...