स्नेह और आशीर्वाद के साथ

07 अप्रैल 2012

हमारे नाम की तरह की ड्रेस भेजी मौसी ने...

आप सभी को यह तो पता ही है कि हमको घर में कई नामों से बुलाया जाता है। दादी राजा बेटा कहती हैं, मम्मा सोना कहती हैं, पिताजी कभी बिटोली कहते हैं तो कभी रिद्धि कहते हैं, हमारे सबसे छोटे चाचा तो हमें कहते हैं मोड़ी, मामा लोग कहते हैं पायल, पूजा बुआ कहती है कुहुक पर अधिकतर लोग हमारे बड़े चाचा का रखा नाम परी ही बोलते हैं। मोहल्ले के लोग और जानपहचान के लोग भी हमको परी के नाम से ही बुलाते हैं।



इस बार हमारे घर में दो-दो शादियाँ थीं और हमारे नाना जी आये थे। आपको बतायें कि हमारी मौसी ने हमारे नाम के हिसाब से हमारे लिए एक सुन्दर सी ड्रेस भेजी थी। बिलकुल परी के जैसी। शादी की भड़भड़ में हमने उस ड्रेस को पहन कर फोटो नहीं खिंचवा पाई थी तो अभी एक दिन हमें मम्मा ने परी वाली ड्रेस पहनाई और हमारे पिताजी ने हमारी फोटो खींच ली। उन्होंने खूब सारी फोटो खींची, हम आपको उसमें से दो-तीन फोटो ही दिखा पा रहे हैं।

देखकर बताइयेगा कि हम कैसे लग रहे हैं, परी की ड्रेस में?


2 टिप्‍पणियां:

Sawai Singh Rajpurohit ने कहा…

आप तो बिल्कुल परी लग रहे हो.

"रुनझुन" ने कहा…

अरे आप तो बिलकुल परियों की शहजादी लग रही हैं....बहुत सुन्दर!!!!