स्नेह और आशीर्वाद के साथ

25 जुलाई 2010

फोटो देख लीजिये -- हमने भी सीखा कैमरा चलाना -- फोटो खींचना

आज हमने कैमरा पा लिया और पिताजी की अनुमति से कई फोटो भी खींचीं। हम घर में अपने सभी बड़ों को फोटो खींचते देखते थे तो हमारी भी बहुत इच्छा होती थी फोटो खींचने की। आज मौका मिल ही गया।

ऐसा हमने चोरी से नहीं किया। पिताजी के सामने किया, उनकी अनुमति से।

आप देखिये और बताइये कि कैसी हैं फोटो? मोबाईल से तो बहुत बार फोटो खींचीं पर कैमरे से पहली बार खींच रहे हैं..........पता नहीं कैसी होंगी।




फोटो नंबर एक
ये तो हमारे पिताजी के पढने की मेज है। पता नहीं कितना ढेर सारा सामान रखते हैं इस पर। आप भी देख लो।
==========================

फोटो नंबर दो
इनको तो आप पहचान ही रहे हैं....ये तो कुर्सियां हैं। खींचना तो पूरी कुर्सी का था पर जितनी आई है उसमें बैठा ज सकता है...
=============================

फोटो नंबर तीन
ये तो हमें ही नहीं पता कि खींचना क्या था और खिंच क्या गया। वैसे कुर्सी का पैर और बोतल साफ़ दिख रही है। कहा जाए तो स्टायलिश फोटो है ये.........
=========================

फोटो नंबर चार
ये कुछ ठीक आई है। कमरे में टंगे कलेंडर के बेबी की फोटो लेनी थी, आ गई पर थोड़ी सी टेढ़ी है....पर ठीक है। है न?
=========================

फोटो नंबर पांच
हमारी बहिन पौच जी और दादी.....ये सही आई। पता कैसे इसमें हमारा हाथ पिताजी ने पकड़ लिया था फिर भी दादी कट गईं है, फोटो में।
==========================

फोटो नंबर छः
पिताजी की खींचना थी कम्प्यूटर सहित पर न तो कम्प्यूटर सही से आया और न ही पिताजी की फोटो सही आई। यहाँ सब गड़बड़ हो गई।

अब दोवारा जब सही फोटो खींचेंगे तो आपको फिर दिखायेंगे।

8 टिप्‍पणियां:

Etips-Blog Team ने कहा…

फोटो देखकर मजा आ गया

भई पुरी कैमरा मैन बन जाओ

अक्षय कटोच *** AKSHAY KATOCH ने कहा…

पिताजी के रंग ढंग यहाँ भी......तुम भी अच्छी फोटो खीचोगी.
आशीर्वाद

अक्षय कटोच *** AKSHAY KATOCH ने कहा…

पिताजी के रंग ढंग यहाँ भी......तुम भी अच्छी फोटो खीचोगी.
आशीर्वाद

Akshita (Pakhi) ने कहा…

Bahut sundar Photographs...

रावेंद्रकुमार रवि ने कहा…

मुझे तो नए अंदाज़ में खींचे गए
ये सभी फ़ोटो अच्छे लगे!

माधव ने कहा…

मुझे एक बार मौका मिला था , पर मैंने कैमरा ही तोड़ दिया , उसके बाद फिर मौका नहीं मिला , प्रयास रत हूँ

रावेंद्रकुमार रवि ने कहा…

बहुत सुंदर : सरस चर्चा ( 7 ) में
इस पोस्ट को शामिल किया गया है!

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक ने कहा…

बहुत सुन्दर पोस्ट!
--
इसकी चर्चा यहाँ भी है-
http://mayankkhatima.blogspot.com/2010/07/9.html